बेदारियां, परमेश्वर की मुलाकात और कार्य

जागृति या बेदारी जो मरा हुआ है उसे वापस जीवित करना है। आज की अधिकांश कलीसिया को पुनर्जीवित करने की ज़रूरत है। जब परमेश्वर एक असामान्य तरीके से आता है, और एक चर्च जो सामान्य रूप से अनुभव करता है, उसके ऊपर अपनी उपस्थिति और सामर्थ को जारी करता है, तो हम इसे परमेश्वर की भेंट या बेदारी कहते हैं। परमेश्वर के इस कदम के परिणामस्वरूप सुसमाचार प्रचार होता है, मिशनों का निर्माण होता है और महान आदेश पूरा किया जाता है। प्रेरितों के कामों की पुस्तक से आरम्भ कर और सदियों के दौरान, परमेश्वर की असंख्य बेदारियां और जागृतियां आईं।