परमेश्वर एक भला परमेश्वर है

परमेश्वर के विषय में हमारी तस्वीर विभिन्न स्नोतों के द्वार विक्सित होती है-एनी लोगों ने परमेश्वर के विषय क्या कहा है, हमारे अनुभवों, आभासों, अश्ययाँ, विश्लेषण अदि के परिणाम| परन्तु इनमें से सब बातें ठीक नहीं हो सकती हैं| पिछले अनुभवों के आधार पर हम परमेश्वर के विषय में बहुत से पक्षपत्पूर्ण विचार, विशुद्ध धारणाए और गलत अर्थ रखते हैं की परमेश्वर कौन है, वह क्या और कैसे काम करता है | कभी-कभी तो जो हमने धार्मिक स्थालों पर, और धार्मिक पुस्तकों में पढ़ा है वह भी परमेश्वर को गलत रूप से प्रस्तुत करता है और परिणामस्वरूप परमेश्वर की तस्वीर हमारे समक्ष गलत होती है| कई बार हम यह सोचते हैं की परमेश्वर निर्दयी और बड़ा कठोर है | यह पुस्तक परमेश्वर की एक ताजा तस्वीर बनती है, बाइबल से यह प्रकट करते हुए की परमेश्वर एक भला परमेश्वर है|