व्यक्तिगत और पीढ़ियों के बन्धनों को तोडना

कुछ समस्याएँ जीवनका लोग सामना कर रहे हैं उनकी उत्पत्ति पिछली पीढ़ियों में हो सकती है| इनमे से कुछ समस्याएँ किसी के कारण हो सकती है जो पिछली पीढ़ी में हो और उसने पापमय जीवन जिया हो अथवा दुष्टात्माओं के कामों में लगा रहा हो| हमारे लिए यह समझना आदश्यक है कि पीढ़ियों के बंधन क्या हैं और इन्हें कैसे तोड़ जाए| हमारी स्वतंत्रता क्रूस पर प्राप्त की जा चुकी है| यीशु शैतान के प्रत्येक काम को नाशा करने के लिए आया चाहे यह किसी भी प्रकार से हम्मरे जीवनों में प्रवेश क्यों न किया हो| यह पुस्तिका हमारी सहायता करेगी की हम व्यक्तिगत और पीढ़ियों के बंधन को पहजाने और उन्हें तोड़े और स्वतन्त्र हो जाए! बहुतायत का जीवन जिए जिसे यीश हमें देने आया!