कलह रहित जीवन जीना

हर जगह संघर्ष है-परिवार में कार्य स्थल पर, सेवा में, कलीसिया में आदि-और इससे मानव के संबंधों पर बुरा असर पड़ता है| जीवन का शायद ही कोई हिस्सा बचा हो जहाँ यह कैसर की तरह न फैला हो जिसे संघर्ष कहा जाता है| अतः संघर्ष क्या है? यह मनुष्यों के बीच में अलागाव, झगड़ा , घृणा, बुराई, लड़ाई, शत्रुता अथवा विवाद आदि है| इस पुस्तक का उद्देश्य है की यह समझों जी संघर्ष के क्या कारण हैं, उन नकारात्मक प्रभावों का अध्ययन करें जिससे हमारे जीवनों पर संघर्ष का असर पडता है, यह सिखों की किस प्रकार अपन इ जीवनों से संघर्ष को दूर रखों|