मन की जीत

जब हमने नया जन्म पाया, तब केवल हमारी आत्माओं का नया जन्म हुआ, हम परमेश्वर के रूप में फिर सूजे गए, और परमेश्वर के जीवन और स्वभाव से भरपूर हो गए। हमारे मन और शरीरों का नया जन्म नहीं हुआ।
परमेश्वर ने हमें अपने वचन और पवित्र आत्मा के द्वारा अपने मन या बुद्धि का नवीनीकरण करने और शरीर को क्रूस पर चढ़ाने की ज़िम्मेदारी सौंपी है। इस पुस्तक का लक्ष्य मन का नवीनीकरण - क्या किया जाना चाहिए और उसके कैसे करना चाहिए - है। यह अध्ययन एक रूप रेखा है जिसमें निम्नलिखित विषयों को संबोधित किया गया है:
• मन-बाइबल का दृष्टिकोण.
• मन-एक युद्ध भूमि
• आपके मन का नवीनीकरण
• सकारात्मक मानसिक प्रवृत्ति का विकास करना
• आत्मा और प्राण का संतुलन
इस अध्ययन रूपरेखा का उद्देश्य व्यक्तिगत अध्ययन, छोटे समूह में चर्चा या व्याख्यान/सेमिनार/सभा में मार्गदर्शिका के रूप में उपयोग करने हेतु है।