बेदारियां, परमेश्वर की मुलाकात और कार्य